दो दिवसीय तटीय रक्षा अभ्यास 'सी विजिल' का समापन

दो दिवसीय तटीय रक्षा अभ्यास 'सी विजिल' का समापन

राज्य सरकार और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ निकट के सहयोग से नौसेना और तट रक्षक बल द्वारा आयोजित पहला तटीय रक्षा अभ्यास सी विजिल का समापन 23 जनवरी 2019 को किया गया। हाल ही के समय में देश द्वारा देखा गया यह सबसे बड़ा अभ्यास था जिसमें विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों द्वारा चालित और संचालित 100 से अधिक पोतों, विमान और गश्ती नौकाओं ने भाग लिया।

इस अभ्यास की शुरुआत 22 जनवरी 2019 की सुबह को हुई जिसमें दो भिन्न चरण शामिल हैं। पहले चरण में, सभी हितधारकों ने उनके स्वयं के संगठन की मजबूती का मूल्यांकन किया। दूसरे चरण के दौरान, केरल और लक्षद्वीप में समुद्र के रास्ते घुसपैठ द्वारा महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों और साधनों पर नकली हमले किए गए। नियंत्रित मछली पकड़ने की नावों के उपयोग से तट पर विरोधी बालों द्वारा घुसपैठ के प्रयासों को नाकाम करने में सुरक्षा एजेंसियां कामयाम रही। अन्य सुरक्षा आकस्मिकताओं जैसे पोत का अपहरण और कोच्चि बंदरगाह से दूर अपतटीय प्रतिष्ठानों पर हमले के प्रति एजेंसियों की प्रतिक्रियाओं का भी मूल्यांकन किया गया था। संबंधित हितधारकों के साथ निकट के सहयोग से समुद्र में, भूमि के निकट और दूरदराज के इलाकों में भी बहुस्तरीय सुरक्षा में कमियों की पहचान करने के लिए घुसपैठ के सभी प्रयासों का विश्लेषण तुरंत किया जाएगा।

दो दिन चले सी विजिल में जिसमें लामबंदी चरण शामिल था, सभी एजेंसियों द्वारा जोश से किए गए कार्य और बड़े पैमाने पर सेनाओं की तैनाती देखी गई। नौसेना और तट रक्षक बल के सभी संचालन केंद्र और पुलिस के कंट्रोल रूम और कोच्चि फोर्ट को पूर्ण रूप से सक्रिय किया गया और एक दूसरे के साथ सूचना का आदान प्रदान किया गया। अभ्यास के दौरान, मल्टी एजेंसी टीमों ने एजेंसियों द्वारा क्रियांवित सुरक्षा स्थापना का भी मूल्यांकन किया जिसमें फिशिंग हार्बर, फिश लैंडिंग सेंटर, पुलिस कंट्रोल रूम और बंदरगाह आदि शामिल थे।

सभी हितधारकों की सहायता से भारतीय नौसेना द्वारा आयोजित सी विजिल से कमियों की पहचान करने, संसाधनों को बेहतर बनाने के नए तरीकों, उच्च अधिकारियों को समाधान का सुझाव देने और मानक परिचालन प्रक्रियाओं में सुधार करने में सहायता मिलेगी। सभी हितधारकों के सक्रिय समर्थन के साथ, इस प्रकार के अभ्यास संपूर्ण सुरक्षा को और मजबूत करते हैं और देश विरोधी तत्वों द्वारा दुस्साहस को विफल करने के लिए आत्मविश्वास बढ़ाते हैं।

वाइस एडमिरल अनिल कुमार चावला, एवीएसएम, एनएम, वीएसएम, कमान प्रमुख, तटीय रक्षा ने समय-समय पर जॉइंट ऑपरेशंस सेंटर, कोच्चि में नौसेना, तट सुरक्षा बल, तटीय पुलिस और अन्य एजेंसियों के वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी में सी विजिल अभ्यास की प्रगति की समीक्षा की।

  • दो दिवसीय तटीय रक्षा अभ्यास 'सी विजिल' का समापन
  • दो दिवसीय तटीय रक्षा अभ्यास 'सी विजिल' का समापन
  • दो दिवसीय तटीय रक्षा अभ्यास 'सी विजिल' का समापन
  • दो दिवसीय तटीय रक्षा अभ्यास 'सी विजिल' का समापन
  • दो दिवसीय तटीय रक्षा अभ्यास 'सी विजिल' का समापन
  • दो दिवसीय तटीय रक्षा अभ्यास 'सी विजिल' का समापन
  • दो दिवसीय तटीय रक्षा अभ्यास 'सी विजिल' का समापन
  • दो दिवसीय तटीय रक्षा अभ्यास 'सी विजिल' का समापन
  • दो दिवसीय तटीय रक्षा अभ्यास 'सी विजिल' का समापन
  • दो दिवसीय तटीय रक्षा अभ्यास 'सी विजिल' का समापन
  • दो दिवसीय तटीय रक्षा अभ्यास 'सी विजिल' का समापन
  • दो दिवसीय तटीय रक्षा अभ्यास 'सी विजिल' का समापन
  • दो दिवसीय तटीय रक्षा अभ्यास 'सी विजिल' का समापन
  • http://india.gov.in, The National Portal of India : External website that opens in a new window
  • Ministry of Defence, Government of India : External website that opens in a new window
  • My Government, Government of India : External website that opens in a new window
  • https://gandhi.gov.in, Gandhi : External website that opens in a new window
Back to Top