डायरेक्टर जनरल मेडिकल सर्विसेज (डीजीएमएस)

डायरेक्टर जनरल मेडिकल सर्विसेज (डीजीएमएस)

Director General of Naval Operationsडायरेक्टर जनरल मेडिकल सर्विसेज (डीजीएमएस) सर्जन वाइस एडमिरल रजत दत्ता, एवीएसएम, एसएम, वीएसएम सर्जन वाइस एडमिरल रजत दत्ता आर्म्ड फोर्सेज मेडिकल कॉलेज, पूणे के पूर्व छात्र हैं और 1982 में अपना एमबीबीएस पूरा करने के बाद, एएमसी में वे 27 दिसंबर 1982 को शामिल हुए थे।

इसके बाद, उन्होंने 1990 में क्रमशः बंगलोर विश्वविद्यालय और नेशनल बोर्ड ऑफ एक्जामिनेशन से जनरल मेडिसिन अर्थात एमडी और डीएनबी में अपना पोस्ट ग्रेजुएट पूरा किया और बाद में 1998 में पूणे विश्वविद्यालय से कार्डियोलोजी में सुपर स्पेशलाइजेशन (डीएम) की डिग्री प्राप्त की। वे सोसाइटी ऑफ कार्डियोवैस्कुलर एंजियोग्राफी और इंटरवेंशंस यूएसए के सदस्य हैं। वे भारत के राष्ट्रपति के लिए कार्डियोलॉजिस्ट के प्रतिष्ठित पद पर भी नियुक्त हैं।

वे विख्यात शिक्षक हैं और कार्डियोलॉजी के प्रोफेसर होने के अलावा, भारत के कई विश्वविद्यालयों और पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल संस्थानों जैसे कि महाराष्ट्र स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय, बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, जेआईपीएमईआर, राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड और परीक्षा विभाग के परीक्षक तथा आईआईटी रुड़की के जैव प्रौद्योगिकी विभाग के परीक्षक भी हैं। पिछले साढ़े तीन दशकों में, कई सैन्य अस्पतालों में सामान्य नियुक्तियों पर कार्य करने के अलावा, उन्होंने 151 बेस अस्पताल और कमान अस्पताल (डब्ल्यूसी) चंडीमंदिर में क्लासीफाइड स्पेशलिस्ट (मेडिसिन और कार्डियोलॉजी) के तौर पर भी काम किया है। इसके बाद उन्होंने एमएच (सीटीसी) पुणे और आर्मी हॉस्पिटल (आर एंड आर) दिल्ली कैंट में कार्डियोलॉजी विभाग के प्रोफेसर और प्रमुख के रूप में कार्य किया, इसके बाद उनकी पोस्टिंग आर्मी हॉस्पिटल (आर एंड आर) दिल्ली कैंट में कंसलटेंट (मेडिसिन और कार्डियोलॉजी) के तौर पर हुई। वे कमांडेंट एफसी, नई दिल्ली के सम्मानित पद पर पदासीन थे। वे एडिशनल डीजीएमएस (आर्मी), नई दिल्ली भी थे। उन्होंने एमजी मेडिसिन, मुख्यालय सेंट्रल कमांड और कमांडेंट, सीएच (सीसी) लखनऊ के पद भी कार्य किया है। अधिकारी ने 01 जुलाई, 2020 को डायरेक्टर जनरल मेडिकल सर्विसेज (नौसेना) का पदभार ग्रहण किया। वर्तमान पदभार को संभालने से पहले, ध्वजाधिकारी ने कमांडेंट, आर्मी हॉस्पिटल (आर एंड आर) दिल्ली कैंट के पद पर नियुक्त थे।

सेवा के प्रति उनके समर्पण और भक्ति के लिए उन्हें 2005 में वीएसएम, 2012 में एसएम (डी) और 2017 में एवीएसएम से पुरस्कृत किया गया। उन्हें 2006 और 2008 में क्रमशः जीओसी-इन-सी (डब्ल्यूसी) प्रशंसा कार्ड और जीओसी-इन-सी (एससी) प्रशंसा कार्ड से पुरस्कृत किया गया है।

उनकी पत्नी मेजर जनरल रश्मि दत्ता, वीएसएम, मुख्यालय दिल्ली क्षेत्र की एमजी (एमईडी) हैं और उनके पुत्र, कैप्टन शिवेश दत्ता वर्तमान में 400 एफडी हॉस्पिटल, इलाहाबाद में कार्यरत हैं।

Back to Top