महाराष्ट्र और कर्नाटक बाढ़ राहत और निकासी के लिए भारतीय नौसेना ने किया अभूतपूर्व बचाव प्रयास कार्य

महाराष्ट्र और कर्नाटक बाढ़ राहत और निकासी के लिए भारतीय नौसेना ने किया अभूतपूर्व बचाव प्रयास कार्य

पिछले कुछ दिनों के दौरान भारी बारिश और उसके कारण नदियों और डैम में अधिक पानी भर जाने से महाराष्ट्र और कर्नाटक के अधिकतर शहरी और ग्रामीण इलाकों में अत्यधिक बाढ़ आने से, भारतीय नौसेना की पश्चिमी नौसेना कमान ने प्रभावित इलाकों के राज्य और जिला प्रशासन को सहायता प्रदान करने के लिए भारी मात्रा में संसाधन जुटाए हैं।

खराब मौसम और बड़ी मात्रा में प्रभावित इलाकों के डूब जाने के बावजूद, गोवा नौसेना क्षेत्र से पांच टीमों सहित पश्चिमी नौसेना कमान की कुल 14 बचाव टीमें 05 अगस्त 2019 से ही महाराष्ट्र और कर्नाटक के क्रमशः कोल्हापुर, बेलगाम और उत्तर कन्नड़ जिलों में काम कर रही है। आज मुंबई से सांगली जिले में तैनाती के लिए वर्तमान में अतिरिक्त पांच बचाव टीमें जा रही हैं। टीमों को भारतीय नौसेना के डोर्निएर विमान और एएलएच हेलीकॉप्टरों और साथ में गोवा, मुंबई और पुणे से भारतीय वायु सेना के एमआई-17 हेलीकॉप्टरों के इस्तेमाल से तैनात किया जा रहा है। यहाँ तक कि कुछ टीमें सड़क मार्ग से प्रस्थान कर रही हैं जहाँ हवाई मार्ग से जाना संभव नहीं है। नौसेना की बचाव टीमें जेमिनी रबर नौकाओं, लाउड़ हेलर, फर्स्ट एड किट, लाइफ जैकेटों और लाइफ बॉय से लैस हैं। कुछ बचाव टीमों में नौसेना के विशेषज्ञ गोताखोर और गोताखोरी उपकरण भी शामिल हैं। एक बार स्थान पर पहुँचने पर, बचाव टीमों ने लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया है।

चिखली गाँव, कोल्हापुर में शिवाजी पुल कुछ सबसे अधिक प्रभावित इलाके थे जहाँ नौसेना की टीमों ने 07 अगस्त 2019 को 240 पुरुषों, महिलाओं और बच्चों को बचाया और यह ऑपरेशन 08 अगस्त को भी पूरा दिन जारी रहा। चिखली से सैंकड़ों लोगों को बचा कर सोंतली और कोल्हापुर में सुरक्षित इलाकों में पहुँचाया गया है। 08 अगस्त 2019 को कुछ टीमों ने आरे गाँव, बलिंगा गाँव और राजापुरवाड़ी में भी कार्य किया।

कर्नाटक में, कारवार नौसेना क्षेत्र ने 06 अगस्त 2019 को काद्रा डैम, कैगा के निकट फंसे लोगों को बचाने के लिए उत्तर कन्नड़ के एसपी द्वारा सहायता के अनुरोध पर कार्यवाही की। टीम ने देर रात तक काम किया और उसी दिन 500 लोगों को सुरक्षित रूप से बचाने में कामयाब रही। 07 अगस्त को, बचाव टीम मालापुर इलाके में हिंदूवाड़ा पहुँची और कई लोगों को वहाँ से निकाल कर सुरक्षित स्थानों पर पहुँचाया जिनमें महिलाओं, बच्चों और गंभीर रूप से बीमार रोगियों को प्राथमिकता दी गई। एक अन्य टीम को बेलगाम जिले में कोवादु गाँव में तैनात किया गया। कर्नाटक में कुल 869 लोगों को सुरक्षा प्रदान की गई है।

नौसेना की टीमें जहाँ भी गई उनका गर्मजोशी से स्वागत किया गया और यहाँ तक कि स्थानीय लोगों ने बचाव कार्यों के सफलता पूर्वक संपन्न होने के लिए प्रार्थनाएं भी आयोजित की।

  • https://www.indiannavy.nic.in/
  • https://www.indiannavy.nic.in/
  • https://www.indiannavy.nic.in/
  • https://www.indiannavy.nic.in/
  • https://www.indiannavy.nic.in/
  • https://www.indiannavy.nic.in/
  • https://www.indiannavy.nic.in/
  • https://www.indiannavy.nic.in/
  • https://www.indiannavy.nic.in/
  • https://www.indiannavy.nic.in/
Back to Top