फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ, पश्चिमी नौसेना कमान

वाइस एडमिरल अजीत कुमार पी, पीवीएसएम, एवीएसएम, वीएसएम

वाइस एडमिरल अजीत कुमार पी, पीवीएसएम, एवीएसएम, वीएसएम

31 जनवरी 2019 को वाइस एडमिरल अजीत कुमार पी, पीवीएसएम, एवीएसएम, वीएसएम ने पश्चिमी नौसेना कमान के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ का कार्यभार संभाला।

सैनिक स्कूल कज़हाकूट्टम और राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के पूर्व छात्र, वाइस एडमिरल अजीत कुमार पी 01 जुलाई 81 को भारतीय नौसेना में शामिल हुए थे। मिसाइल और गनरी के विशेषज्ञ के रूप में, फ्लैग ऑफिसर ने भारतीय नौसेना और विदेशों के फ्रंटलाइन युद्धपोतों को अपनी सेवा दी है। वाइस एडमिरल अजीत कुमार को दो विदेशी युद्धपोतों समेत छह युद्धपोतों का कमान संभालने का दुर्लभ गौरव प्राप्त है। इनमें गाइडेड मिसाइल कार्वेट भा नौ पो कुलिश, गाइडेड मिसाइल फ्रिगेट भा नौ पो तलवार, गाइडेड मिसाइल विध्वंसक भा नौ पो मुंबई और भा नौ पो मैसूर शामिल हैं। अधिकारी ने नेवल हायर कमांड कोर्स पूरा किया है और प्रतिष्ठित नेवल वॉर कॉलेज, न्यूपोर्ट, यूएसए के पूर्व छात्र भी हैं। नौसेना प्रमुख ने आरंभिक विशेषज्ञ और कमान नियुक्तियों में पश्चिमी नौसेना कमान को बड़े पैमाने पर सेवा दी है। वे पश्चिमी नौसेना कमान के चीफ स्टाफ ऑफिसर (संचालन) भी रहे हैं।

वाइस एडमिरल अजीत कुमार पी पूर्वी बेड़े के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग, गनरी और मिसाइल ट्रेनिंग स्कूल - भा नौ पो द्रोणाचार्य के कमान अधिकारी, आईएचक्यू एमओडी (नौसेना) में सहायक कार्मिक प्रमुख (मानव संसाधन विकास) और दक्षिणी नौसेना कमान के कर्मचारी प्रमुख भी रह चुके हैं। दिसंबर 2013 में वाइस एडमिरल का पद पाने के बाद, वे एझिमाला के प्रतिष्ठित भारतीय नौसेना अकादमी के कमांडेंट बने। उनके कार्यकाल में उच्च संयुक्त रक्षा प्रबंधन का व्यापक अनुभव भी शामिल है, जहां उन्होंने एचक्यू आईडी एस में डिप्टी चीफ ऑफ इंटीग्रेटेड डिफेंस स्टाफ (संचालन) और डिप्टी चीफ ऑफ इंटीग्रेटेड डिफेंस स्टाफ (नीति योजना और सेना विकास) के रूप में काम किया है। फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ, पश्चिमी नौसेना कमान का कार्यभार संभालने से पहले उनकी अंतिम नियुक्ति नौसेना मुख्यालय, नई दिल्ली में नौसेना स्टाफ के उप प्रमुख के रूप में थी। उनकी सेवा के लिए, उन्हें भारत के माननीय राष्ट्रपति द्वारा 2006 में विशिष्ट सेवा मेडल, 2014 में अति विशिष्ट सेवा मेडल और 2019 में परम विशिष्ट सेवा मेडल से सम्मानित किया गया।

Back to Top