माले, मालदीव में भारतीय युद्धपोतों का दौरा

माले, मालदीव में भारतीय युद्धपोतों का दौरा

Indian Warships visit to Male, Maldives

भारतीय नौसेना पोत विक्रमादित्य, मैसूर और दीपक को अंतर्राष्ट्रीय बेड़े की समीक्षा में भाग लेने के बाद 15 – 18 फरवरी 16 तक माले का दौरा करने के लिए निर्धारित किया गया है। ये पोत मुंबई में स्थित भारतीय नौसेना के पश्चिमी बेड़े के हिस्से हैं।

Indian Warships visit to Male, Maldives

भारतीय नौसेना के दो विमान वाहक में से एक भा नौ पो एक अत्याधुनिक पोत है, जो MiG 29K फाइटर, KM 31 AEW हेलिकॉप्टर, मल्टी रोल सीकिंग्स और यूटिलिटी चेतक जैसे विभिन्न प्रकार के उच्च प्रदर्शन वाले विमान को संचालित करने में सक्षम है। यह पोत 285 मीटर से अधिक लंबा और 60 मीटर चौड़ा है। इसके 23 डेक स्केल की ऊंचाई 60 मीटर है। यह स्वदेशी निर्मित भा नौ पो मैसूर, एक सीमावर्ती मिसाइल विध्वंसक और भा नौ पो दीपक, फ्लीट टैंकर के साथ चलती है।

Indian Warships visit to Male, Maldives

दौरे के दौरान, दोनों सेनाओं के बीच घनिष्ठ सहयोग को बढ़ाने के लिए एमएनडीएफ के साथ युद्धपोतों के बारे में व्यावसायिक वार्ता होगी। इसके अतिरिक्त, कई खेल और सामाजिक कार्यों के संचालन की योजनाएं भी बनाई गई है, जिसका उद्देश्य दोनों नौसेनाओं के बीच संबंधों और आपसी समझ को मजबूत करना है।

Indian Warships visit to Male, Maldives

भारत के उच्चायुक्त पर एफओसीएफ की औपचारिक मुलाकात

ध्वजाधिकारी कमांडिंग वेस्टर्न फ्लीट, रियर एडमिरल रवनीत सिंह, एनएम अपने ध्वजपोत विक्रमादित्य को उड़ा रहे हैं। भा नौ पो विक्रमादित्य की कमान कप्तान स्वामिनाथन संभाल रहे हैं, भा नौ पो मैसूर की कमान कैप्टन एम पौल सेमुअल संभाल रहे हैं और भा नौ पो दीपक की कमान कैप्टन सुजित कुमार छेत्री संभाल रहे हैं।

Indian Warships visit to Male, Maldives

रक्षा सेना प्रमुख के सम्मान में गार्ड

भारत और मालदीव सुदृढ़ और अत्यंत सौहार्दपूर्ण रक्षा और राजनयिक संबंधों के साथ करीबी समुद्री पड़ोसी हैं। एमएनडीएफ के संयोजन से भारतीय नौसेना और भारतीय तट रक्षक नियमित रूप से मालदीव ईईजेड में निगरानी करते हैं। वर्तमान दौरा मालदीव के साथ द्विपक्षीय संबंधों के लिए भारत द्वारा दिए गए महत्व को उजागर करती है और दोनों देशों के बीच मौजूदा संबंध को सुदृढ़ बनाना चाहती है।

Back to Top