भारतीय नौसेना की "सहायक" एयर ड्रॉपेबल कंटेनर्स से परिचालन रसद क्षमता की वृद्धि

भारतीय नौसेना की "सहायक" एयर ड्रॉपेबल कंटेनर्स से परिचालन रसद क्षमता की वृद्धि

"सहायक" एयर ड्रॉपेबल कंटेनर्स के सफल ट्रायल 08 जनवरी 2019 को अरब सागर में गोवा के तट से आईएल-38 विमान से आयोजित किए गए।

सहायक कंटेनर भारतीय नौसेना की परिचालन रसद क्षमता में वृद्धि करेंगे और उन पोतों को पुर्जों और भंडारण की आपूर्ति का उपाय प्रदान करेंगे जो तट से 2000 किलोमीटर से भी अधिक दूरी पर तैनात हैं। इस प्रकार से पोतों द्वारा पुर्जों और भंडारण एकत्र करने हेतु तट बंद करने की आवश्यकता कम होगी, जिससे तैनाती की अवधि में वृद्धि होगी। इन बेलनाकार कंटेनरों को डीआरडीओ के नौसेना विज्ञान और तकनीकी प्रयोगशाला और वैमानिक विकास प्रतिष्ठान द्वारा देश में विकसित किया गया है।

कंटेनर में 50 किग्रा टेस्ट पेलोड को गिराया गया, जो पैराशूट की सहायता से समुद्र में उतरा। इन ट्रायल्स की सफलता के साथ, सहायक कंटेनर्स और पैराशूटों का श्रृंखला उत्पादन आरंभ किया जाएगा।

  • भारतीय नौसेना की
  • भारतीय नौसेना की
  • http://india.gov.in, The National Portal of India : External website that opens in a new window
  • Ministry of Defence, Government of India : External website that opens in a new window
  • My Government, Government of India : External website that opens in a new window
  • https://www.indiainvestmentgrid.com : External website that opens in a new window
  • https://gandhi.gov.in, Gandhi : External website that opens in a new window
  • STQC_logo
Back to Top