घाटकोपर, मुंबई में नौसेना क्वारंटाइन शिविर से क्वारंटाइन के 44 मामले घर वापस लौटे

घाटकोपर, मुंबई में नौसेना क्वारंटाइन शिविर से क्वारंटाइन के 44 मामले घर वापस लौटे

घाटकोपर, मुंबई स्थित मटेरियल ऑर्गनाइजेशन में भारतीय नौसेना क्वारंटाइन सुविधा ने ईरान से आए (24 महिलाओं सहित) 44 विस्थापितों को क्वारंटाइन करने का कार्य शांति से सफलता के साथ पूरा कर लिया है। कुल मिलाकर, उन 44 विस्थापितों ने 13 मार्च 2020 से शुरू करते हुए 30 दिन का समय सुविधा में बिताया, और 28 मार्च 2020 को सभी के कोविड-19 परीक्षण में नेगेटिव आने पर ही क्वारंटाइन अवधि को समाप्त किया गया।

नौसेना के मेडिकल स्टाफ की समर्पित टीम ने पूरी लगन से उन विस्थापितों के स्वास्थ्य पर निगरानी रखी। उनकी सहायता सफाई कर्मचारियों और अन्य स्टाफ ने की जिन्होंने सुविधा की सफाई, उनके आराम और कल्याण का पूरा ध्यान रखा। उन्हें दिया जाना वाला खाना कड़ी निगरानी में तैयार किया जाता था और किसी भी ख़ास ज़रूरत को पूरा करने के लिए उसमें बदलाव किए जाते थे।

विस्थापितों के आराम के लिए एक लाइब्रेरी, टीवी रूम, इनडोर खेल, छोटे जिम्नेज़ियम और क्रिकेट के सीमित सामान की सुविधा प्रदान की गई थी।

देश भर में लॉकडाउन के चलते सामान की सीमित उपलब्धता एक अतिरिक्त चुनौती थी जिसका सामना नए उपायों और हौसले के साथ किया गया। इसके अलावा, विस्थापितों की आवास अवधि को बढ़ाना पड़ा क्योंकि उनके पास श्रीनगर और लद्दाख स्थित घरों में जाने का कोई साधन मौजूद नहीं था। इसलिए उन्हें हवाई मार्ग से भेजने के लिए भारतीय वायुसेना के विमान का इस्तेमाल किया गया और 12 अप्रैल 2020 को एक सी-130 विमान से ये लोग श्रीनगर पहुंचाए गए। वापसी यात्रा के लिए प्रत्येक विस्थापित को नव्वा घाटकोपर की ओर से पैक भोजन, जलपान और दो हाथों से सिले मास्क प्रदान किए गए।

कोविड-19 के विरुद्ध लड़ाई में देश की सहायता के लिए भारतीय नौसेना पूर्ण सहयोग दे रही है और भारत के नागरिकों और नागरिक प्रशासन की हर प्रकार से सेवा करने के लिए तैयार है।

  • https://www.indiannavy.nic.in/
  • https://www.indiannavy.nic.in/
  • https://www.indiannavy.nic.in/
  • https://www.indiannavy.nic.in/
Back to Top